Blogger Tips and TricksLatest Tips And TricksBlogger Tricks

kaavya manjari

Saturday, October 29, 2016

दीपावली के दीप.......





*******************************************
चलो......फिर से दिवाली का इक जश्न मनाना है
गिले शिकवे के तिमिर से.....मुक्त मन बनाना है

अमावस की निशा में तो....हर ज्योति निराली है
भव्य दीपामालाओं से अपना गुलशन सजाना है
@आनन्द
*******************************************

2 comments:

  1. ब्लॉग बुलेटिन टीम और मेरी ओर से आप सभी को छोटी दिवाली की हार्दिक शुभकामनाएं|


    ब्लॉग बुलेटिन की आज की बुलेटिन, "छोटी दिवाली पर देश की मातृ शक्ति को बड़ा नमन“ , मे आप की पोस्ट को भी शामिल किया गया है ... सादर आभार !

    ReplyDelete