Blogger Tips and TricksLatest Tips And TricksBlogger Tricks

kaavya manjari

Wednesday, May 21, 2014

उल्फ़तों की..........

उल्फ़तों की जागीर को अपना बना के देख लो

हार की सौगात को सिर माथे से लगा के देख लो

हो जाएंगे इक रोज पीछे आँधियों के धुलझड़े भी

सिद्दत से तूफान की चाल से चाल मिला के देख लो

1 comment: